उत्तर प्रदेश जनसुनवाई ऑनलाइन शिकायत | UP JANSUNWAI PORTAL, APP, COMPLAINT STATUS @JANSUNWAI.UP.NIC.IN

By | May 1, 2020

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई ऑनलाइन शिकायत | UP JANSUNWAI PORTAL, APP, COMPLAINT STATUS @JANSUNWAI.UP.NIC.IN

UP Jansunwai Portal
UP Jansunwai Portal

UP Jansunwai Portal

योजना का नामउत्तर प्रदेश जनसुनवाई
मुख्य अधिकारीमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
विभागउत्तर प्रदेश लोक शिकायत विभाग
उद्देश्यप्रदेश का विकास
StatusJan Sunwai Portal
लाभसमस्याओं का निस्तारण
पंजीकरण का प्रकारऑनलाइन तथा फोन के माध्यम से
Official Portalhttp://jansunwai.up.nic.in/

यूपी जनसुनवाई पोर्टल क्या है?

यूपी जनसुनवाई पोर्टल उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बनाई गई एक ऑनलाइन वेबसाइट है। जिसे मुख्यत: शिकायतों के निपटारे के लिए बनाया गया है। इस वेबसाइट के जरिए उत्तर प्रदेश के नागरिकों और शासन/विभागों/कार्यालयों के बीच संवाद बनाया जाता है। यह संवाद प्रक्रिया पारदर्शी तरीके से होती है।

इस पोर्टल का मुख्य मकसद कई माध्यमों से प्राप्त शिकायत को एक ही प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराना है। साथ ही उन शिकायतों का निपटारा भी एक निश्चित समयावधि के अंदर करना ज़रूरी होता है। यहां पर आप अपनी शिकायतों को आसानी से दर्ज और ट्रैक कर सकते हैं।

उत्तरप्रदेश राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना पात्रता, स्टेटस, लिस्ट, ऑनलाइन आवेदन – UP Rastriya Parivarik Labh Yojana 2020

UP Jansunwai Portal जानकारी और उपयोगएक नजर में देखें कैसे काम करती है पूरी प्रक्रिया

सबसे पहले शिकायतकर्ता को अपनी शिकायत को पंजीकृत करना होता है। जिसे आपकी शिकायत सेसंबंधित विभाग के पास फॉरवर्ड कर दिया जाता है। शिकायतकर्ता को अपने स्टेटस को लगातार चेक करने के लिए एप्लीकेशन नंबर दिया जाता है।

साथ ही पंजीकरण के बाद आपको एक रेफरेंश नंबर मिलता है जिसके द्वारा आपकी शिकायत पर हो रही कारवाई की जानकरी मोबाइल SMS के माध्यम से आपको दी जाती है। शिकायत का निवारण 10 से 30 दिनों के भीतर कर दिया जाता है।

{नई} यूपी राशन कार्ड लिस्ट 2020 | UP Ration Card List | APL, BPL New जिलेवार सूची

जनसुनवाई पोर्टल ओपन करने के पीछे उद्देश्य राज्य और राज्य के निवासियों के बीच एक सीधे तौर
पर संवाद स्थापित करना है। इस पोर्टल के जरिये राज्य निवासियों को यह सुविधा दी गई है कि अपनीशिकायतें सीधे तौर पर राज्य सरकार के सामने रख सके।

जैसे अगर कोई सरकारी अधिकारी या फिर कोई राज्य कर्मचारी आपकी किसी बात को करने से मना कर रहा है या फिर किसी काम को करने के बाद वह आपसे रिश्वत की मांग कर रहा है तो आप अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

​यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर ऑनलाइन कैसे देखें – CaneUp पोर्टल

जनसुनवाई पोर्टल शिकायत दर्ज कैसे कराएं?

जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए आपको सबसे पहले jansunwai.up.nic.in की वेबसाइट पर जाना होगा। यहां पर आपको शिकायत पंजीकरण के नाम से एक विकल्प मिलेगा। जिसपर आपको क्लिक करना होगा। जिसके बाद कुछ नियम एवं शर्तों के साथ एक छोटी स्क्रीन खुलकर आएगी। उसे ध्यान से पढ़ने के बाद अपनी सहमति देनी होगी और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।

उत्तर प्रदेश स्कॉलरशिप स्टेटस, UP स्कॉलरशिप स्टेटस (List) सूची कैसे चेक करें? – UP Scholarship Status 2020

सबमिट करने के बाद एक अलग विंडो खुलकर सामने आएगी। जहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर या फिर ई-मेल आईडी अंकित करना होगा। इतना करने के बाद आपके नंबर या ई-मेल आईडी पर एक ओटीपी आएगा। ओटीपी डालने के बाद एक फॉर्म खुलकर सामने आएगा। जिसपर आवेदन कर्ता को अपनी शिकायत दर्ज करनी होगी।

जनसुनवाई पोर्टल उत्तर प्रदेश ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण फॉर्म कैसे भरें (Register Complaint) @jansunwai.up.nic.in

फॉर्म में आपको अपना नाम, पिता का नाम, लिंग, मोबाइल नंबर, ईमेल, आधार नंबर,शिकायत का विवरण और संबंधित विभाग का चयन करना होगा। ध्यान से पढ़ने के बाद फॉर्म भरकर सबमिट करें।

इसके बाद आपकी शिकायत संबंधित विभाग के पास चली जाएगी और आपके मोबाइल पर एक शिकायत नंबर आएगा। आपकी शिकायत से संबंधित विभाग इस मामले पर आवश्य करवाई करेगा। शिकायत का स्टेटस एसएमएस के माध्यम से भी आपको समय-समय पर दिया जाता है।

नोट-

फॉर्म में सभी जानकारी को सही से भरे और सबमिट करने से पहले एक बार चेक जरूर कर लें। अगर आपके द्वारा शिकायत जिस विभाग से संबंधित है और उस विभाग की गलत जानकारी डाली है तो आपकी शिकायत आगे फॉरवर्ड नहीं की जा सकेगी और इसका समाधान भी नहीं हो सकेगा।

UP Jansunwai Portal Complaint Status, शिकायत की स्थिति की जानकारी

आपके द्वारा की गई शिकायत की स्थिति के बारे में जानकारी भी आप इस पोर्टल से ले सकते हैं। वेबसाइट पर शिकायत की स्थिति नाम से एक विकल्प आएगा। जहां आपको पंजीकरण करते समय मिली अपनी शिकायत संख्या को दर्ज करना होगा। जिसके बाद शिकायत की स्थिति देखने को मिल जाती है। आमतौर पर 1 महीने में आपके द्वारा की गई शिकायतों का निपटारा हो जाता है लेकिन यदि मामला गंभीर है तो आपको जानकारी दे दी जाएगी।

अगर बहुत दिन होने पर भी आपके शिकायत का समाधान नहीं हुआ है तो ऐसी स्थिति में आप जनसुनवाई पोर्टल पर आप दोबारा से शिकायत कर सकते हैं या फिर अनुस्मारक भेज सकते हैं ।

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana List 2020-21 – यहां देखें प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की नई लिस्ट

कैसे भेजे अनुस्मारक (रिमाइंडर)

अनुस्मारक (रिमाइंडर) के लिए Jansunwai.Up.Nic.In/SendReminder.html लिंक पर जाएं। उस पेज पर सबसे पहले आपको फॉर्म भरते समय दी गई अपनी शिकायत संख्या को दर्ज करके खोजे बटन पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद आपकी शिकायत का पेज खुलकर आ जायेगा वहां पर आवेदन को सेलेक्ट करें और फिर उसे अनुस्मारक के लिए भेज दें।

शिकायत दर्ज करने के लिए दो विकल्प-

  1. वेबसाइट के माध्यम से
  2. जनसुनवाई मोबाइल ऐप के माध्यम से

Jansunwai Mobile APP डाउनलोड कैसे करे? – जनसुनवाई ऐप भी कर सकते हैं डाउनलोड

सरकार वर्तमान में मोबाइल गवर्नेंस को बढ़ावा दे रही है। इसी के तहत अगर आप चाहें तो जनसुनवाई ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं। एंड्रॉइड यूजर प्लेस्टोर पर जाकर इस एप को डाउनलोड कर सकते हैं। इस एप का उपयोग कर नागरिक आसानी से किसी भी समय अपनी शिकायत को दर्ज और ट्रैक कर सकते हैं।

सबसे पहले जनसुनवाई ऐप को इनस्टॉल करके उसे ओपन करें। फिर आपको इसके वेबसाइट वाले सभी ऑप्शन देखने को मिल जाएंगे। जनसुनवाई ऐप के माध्यम से आप आपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं और आप शिकायत के स्टेटस को भी चेक कर सकते हैं।

किसानो को मिलेंगे 15000, रुपए जानें कैसे – पीएम किसान बड़ी खबर

Send Reminder in Jansunwai Portal – जनसुनवाई किन मामलों पर नहीं होती है

उत्तर प्रदेश सरकार निम्न 5 मामलों पर सुनवाई नहीं करती है-

1-सूचना के अधिकार से सम्बंधित मामले- जैसे आरटीआई एक्ट 2005 के अंतर्गत आने वाले मामलों पर सुनवाई नहीं होती है।

2- न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण- यदि कोई मामला चाहे वह आपराधिक हो या फिर न्यायिक इससे संबधित विचाराधीन मामलों की भी इस पोर्टल पर सुनवाई नहीं होगी।

3- सुझाव- यदि आप राज्य सरकार को किसी प्रकार सलाह देना चाह रहे हैं तो इस पोर्टल के द्वारा सुझाव और सलाह देने की सुविधा प्रदान नहीं की गई है।

4- आर्थिक सहायता या नौकरी दिए जाने की मांग- यदि आप किसी आर्थिक सहायता या नौकरी मांगने के लिए इस पोर्टल का प्रयोग कर रहे है तो आपको कोई लाभ नहीं मिलेगा। 5- सरकारी सेवकों के सेवा सम्बन्धी प्रकरण (स्थानांतरण सहित) -यदि कोई अधिकारी जनसुवाई पोर्टल पर अपने ट्रांसफर आदि से संबधित कोई शिकायत करना चाहता है तो उसे ऐसा तब तक नहीं करना चाहिए जब तक उसने अपने विभाग में उपलब्ध तमाम विकल्पों को उपयोग ना कर लिया हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *